Source: 
IBC 24
Author: 
Date: 
23.04.2022
City: 
New Delhi

कॉरपोरेट और व्यक्तिगत रूप से राजनीतिक पार्टियों को मिले डोनेशन को लेकर एक हैरान करने वाला खुलासा हुआ है। रिपोर्ट में पता चला है कि कुल फंड का 82 फीसदी हिस्सा बीजेपी के खाते में गया है। जबकि कांग्रेस एनसीपी समेत 10 पार्टियों को बेहद कम फीसदी में चंदा मिला है

दरअसल चुनाव सुधार पर नजर रखने वाली संस्था एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (ADR) ने ये जानकारी दी है। मालूम होगा कि देश के 7 चुनावी ट्रस्ट को वित्त वर्ष 2020-21 में कॉरपोरेट और व्यक्तिगत चंदे के रूप में 258.49 करोड़ रुपये मिले हैं। वहीं ADR की रिपोर्ट में पता चला है कि सबसे ज्यादा बीजेपी के खाते में जमा हुआ है।

चुनावी फंडिंग में पारदर्शिता लाने के उद्देश्य से चुनावी ट्रस्ट का कॉन्सेप्ट लाया गया है। जो गैर-लाभकारी संस्था होते हैं। ADR ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि कुल 23 चुनावी ट्रस्टों में से 16 ने साल 2020-21 के लिए डोनेशन की रिपोर्ट को जमा किया है। इनमें से 7 ट्रस्ट ने चंदे और इनमें से कुल दान की गई रकम की जानकारी दी है।

एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स के अनुसार साल 2020-21 में बीजेपी को 212.05 करोड़ रुपये और जेडीयू को 27 करोड़ रुपये चंदे के रूप में मिले हैं। कांग्रेस, एनसीपी, आरजेडी समेत 10 अन्य पार्टियों को चंदे के रूप में 19.38 रुपये मिले हैं। इन 10 पार्टियों में Congress, NCP, AIADMK, DMK, RJD, AAP, LJP, CPM, CPI और लोकतांत्रिक जनता दल शामिल है।

© Association for Democratic Reforms
Privacy And Terms Of Use
Donation Payment Method