Source: 
IBC24
https://www.ibc24.in/country/8242-of-national-parties-undisclosed-income-linked-to-electoral-bonds-adr-2406684.html
Author: 
भाषा धीरज माधव
Date: 
07.03.2024
City: 
New Delhi

राष्ट्रीय दलों के 82.42 प्रतिशत ‘अज्ञात आय का संबंध चुनावी बॉण्ड से’ : एडीआर

राष्ट्रीय दलों की 2022-23 के दौरान अज्ञात स्रोत से हुई आय में से 82 प्रतिशत का संबंध चुनावी बॉण्ड से है। यह खुलासा चुनाव अधिकार निकाय ने किया है।

एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म (एडीआर) ने यह भी कहा कि राष्ट्रीय दलों द्वारा निर्वाचन आयोग में जमा ऑडिट रिपोर्ट और दान संबंधी जानकारी का विश्लेषण करने पर खुलासा हुआ कि बड़े पैमाने पर उनका स्रोत अज्ञात रहा।

एडीआर ने कहा कि वित्तवर्ष 2022-23 के लिए दाखिल वित्तीय रिपोर्ट का विश्लेषण करने पर खुलासा हुआ कि अज्ञात स्रोत से हुई कुल 1,832.88 करोड़ रुपये की आय में से 1510 करोड़ रुपये चुनावी बॉण्ड से प्राप्त हुए, जो कुल अज्ञात स्रोत से प्राप्त राशि का 82.42 प्रतिशत है।

इस अध्ययन के लिए छह दलों की आय पर विचार किया गया जिनमें भारतीय जनता पार्टी (भाजपा), कांग्रेस, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा), बहुजन समाज पार्टी (बसपा), आम आदमी पार्टी (आप) और नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीईपी) शामिल है।

एडीआर के मुताबिक भाजपा ने सबसे अधिक अज्ञात स्रोत से आय की जानकारी दी। पार्टी को 1400 करोड़ रुपये मिले जो कुल अज्ञात चंदे का 76.39 प्रतिशत है। कांग्रेस ने अज्ञात स्रोत से 315.11 करोड़ रुपये (17.19 प्रतिशत)मिलने की जानकारी दी है।

विश्लेषण के मुताबिक बसपा ने घोषणा की कि उसे कोई चंदा नहीं मिला है फिर चाहे 20 हजार रुपये से कम या अधिक का चंदा हो, कूपन की बिक्री या चुनावी बॉण्ड से मिला चंदा हो या अज्ञात स्रोत से मिला चंदा हो।

एनजीओ ने रेखांकित किया कि चुनावी बॉण्ड को लेकर राष्ट्रीय दलों पर ही ध्यान केंद्रित किया जाता है लेकिन राज्य स्तर के दलों को भी चुनावी बॉण्ड से काफी राशि मिली।

एडीआर के मुताबिक 2004-05 से 2022-23 के बीच राष्ट्रीय दलों को अज्ञात स्रोत से 19,083 करोड़ रुपये प्राप्त हुए।

एनजीओ ने 2022-23 के नवीनतम विश्लेषण के आधार पर दावा किया है कि अज्ञात स्रोतों में सबसे अधिक योगदान चुनावी बॉण्ड का था और ‘अज्ञात स्रोत से प्राप्त कुल राशि में से 82. 42 प्रतिशत राशि चुनावी बॉण्ड से मिली है।’’

इसने कहा कि आगे के विश्लेषण से खुलासा हुआ है कि अज्ञात स्रोत से प्राप्त आय में 1,510 करोड़ रुपये चुनावी बॉण्ड से मिले।

एडीआर ने बताया कि इसके अलावा कांग्रेस और माकपा ने घोषणा की है कि उन्हें कूपन की बिक्री से कुल 136.79 करोड़ रुपये प्राप्त हुए हैं जो अज्ञात स्रोत से आय में 7.46 प्रतिशत का योगदान करते हैं।

बसपा को ज्ञात स्रोत से 29.27 करोड़ रुपये प्राप्त हुए जिनमें बैंक से ब्याज के रूप में 15.05 करोड़, सदस्यता शुल्क के रूप में 13.73 करोड़ रुपये शामिल हैं।

एडीआर के मुताबिक वित्तवर्ष 2022-23 में छह राष्ट्रीय दलों को कुल 3,076.88 करोड़ रुपये प्राप्त हुए। 20 हजार रुपये से कम दान की हिस्सेदारी आय के अज्ञात स्रोत में 10 प्रतिशत रही और यह राशि 183.28करोड़ रुपये है।

मौजूदा नियमों के मुताबिक 20 हजार रुपये से कम दान देने पर दलों को दानकर्ताओं की जानकारी साझा करने की जरूरत नहीं होती है।

© Association for Democratic Reforms
Privacy And Terms Of Use
Donation Payment Method