Source: 
Lagatar
Author: 
Date: 
10.07.2021
City: 
New Delhi

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नये मंत्रिमंडल में अधिकतर मंत्री दागी बताये गये हैं. बता दें कि चुनाव सुधारों के लिए काम करने वाले समूह एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (ADR) की एक रिपोर्ट के अनुसार 42 फीसदी पर आपराधिक मुकदमा दर्ज़ है. रिपोर्ट की मानें तो मंत्रिमंडल में शामिल 90 फीसदी नेता करोड़पति हैं.

24 मंत्रियों पर गंभीर किस्म के मामले दर्ज हैं

मोदी सरकार के नये मंत्रिमंडल में 78 मंत्री शामिल किये गये हैं, जिनमें से 33 मंत्रियों ने खुद पर आपराधिक मामले दर्ज होने की बात मानी है. इनमें से 24 मंत्रियों (31 फीसदी) पर गंभीर किस्म के मामले दर्ज होने की बात सामने आयी है. इन मामलों में हत्या, हत्या का प्रयास, लूट जैसे संगीन अपराध दर्ज हैं. खबरल है कि पश्चिम बंगाल की अलीपुरद्वार से सांसद व अल्पसंख्यक मामलों के राज्यमंत्री जॉन बरला पर 24 गंभीर किस्म की धाराओं वाले 9 मामले सहित 38 अन्य मामले हैं.

गृह राज्यमंत्री निशीथ प्रमाणिक पर हत्या का मुकदमा है

इस क्रम में देश के सबसे कम उम्र के नये गृह राज्यमंत्री निशीथ प्रमाणिक पर हत्या का मुकदमा दर्ज है. प्रमाणिक पर 11 मामले, 21 गंभीर किस्म की धाराओं के दर्ज हैं. बता दें कि 35 साल के प्रमाणिक पश्चिम बंगाल के कूच बिहार इलाके से आते हैं. उन्होंने 8वीं तक पढ़ाई की है. उत्तर प्रदेश के महाराजगंज के सांसद वित्त राज्यमंत्री पंकज चौधरी पर हत्या के प्रयास के कुल 5 मामले दर्ज हैं.

साथ ही  चार अन्य मंत्रियों पर हत्या के प्रयास के मुकदमे दर्ज है. इसमें अल्पसंख्यक मामलों के राज्यमंत्री जॉन बारला, गृह-युवा व खेल राज्यमंत्री प्रमाणिक, वित्त राज्यमंत्री पंकज चौधरी और विदेश व संसदीय कार्य राज्यमंत्री वी मुरलीधरन शामिल हैं.

चार मंत्रियों ने अपनी संपत्ति 50 करोड़ बतायी है

केंद्रीय कैबिनेट के 5 मंत्रियों पर सांप्रदायिकता फैलाने और धार्मिक भावनाएं भड़काने का आरोप है. इनमें ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री गिरिराज सिंह, कृषि राज्यमंत्री शोभा करंदलाजे, गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय और कोयला मंत्री प्रहलाद जोशी के नाम हैं.

रिपोर्ट के अनुसार कैबिनेट के 78 मंत्रियों में से 70 यानी 90 फीसदी मंत्री करोड़पति हैं. इनकी औसतन संपत्ति 16.24 करोड़ रुपये है. चार मंत्रियों ने अपनी संपत्ति 50 करोड़ बतायी है. इनमें नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया, वाणिज्य उद्योग व कपड़ा मंत्री पीयूष गोयल, एमएसएमई मंत्री नारायण राणे और कौशल विकास व इलेक्ट्रॉनिकी आईटी राज्यमंत्री राजीव चंद्रशेखर शामिल हैं.

आठ मंत्रियों की संपत्ति एक करोड़ से कम है

आठ मंत्री ऐसे हैं. जिनकी संपत्ति एक करोड़ से कम है.  इनमें प्रतिमा भौमिक, जॉन बारला, कैलाश चौधरी, विश्वेश्वर टुडू, वी मुरलीधरन, रामेश्वर तेली, शांतनु ठाकुर और नीतीश प्रमाणिक शामिल हैं. 12 मंत्रियों  की शैक्षणिक योग्यता 8वीं से 12वीं के बीच है, जबकि 64  मंत्रियों की शैक्षणिक योग्यता स्नातक या उससे ज्यादा है.

© Association for Democratic Reforms
Privacy And Terms Of Use
Donation Payment Method