Source: 
The Rural Press
https://theruralpress.in/2024/04/09/252-tainted-450-millionaires-in-the-first-phase-of-elections/
Author: 
Shami Imam
Date: 
09.04.2024
City: 

Lok Sabha election Phase-1: लोकसभा चुनाव 2024 के पहले चरण में कुल 1625 उम्मीदवार मैदान में हैं। इनमें से 1618 उम्मीदवारों के चुनाव हलफनामों का ADR ने विश्लेषण किया है। इनमें 450 उम्मीदवार करोड़पति हैं। वहीं, पहले चरण में चुनाव लड़ रहे 16 प्रतिशत उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले दर्ज हैं।

देश में इस वक्त चुनाव की सरगर्मी है। 19 अप्रैल से लेकर 1 जून तक सात चरणों में लोकसभा के चुनाव होने हैं। पहले चरण के नामांकन की प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। पहले चरण में 21 राज्यों की 102 सीटों के लिए 19 अप्रैल को मतदान होगा।

इस बीच, एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (ADR) लोकसभा चुनाव 2024 के पहले चरण में चुनाव लड़ रहे उम्मीदवारों के हलफनामे का विश्लेषण किया है। पहले चरण में कुल 1625 उम्मीदवार मैदान में हैं। इनमें से 1618 उम्मीदवारों के शपथपत्रों का विश्लेषण किया गया है। सात उम्मीदवारों के शपथ पत्र स्पष्ट नहीं होने के कारण उनके हलफनामों को विश्लेषण नहीं हो सका है।

16% उम्मीदवार आपराधिक पृष्ठभूमि के

एडीआर ने सोमवार को जारी किए एक विश्लेषण में बताया है कि पहले चरण में 1618 उम्मीदवारों से 252 (16%) पर आपराधिक मामले चल दर्ज हैं। वहीं 450 (28%) उम्मीदवार करोड़पति हैं जबकि उम्मीदवारों की औसतन संपत्ति ₹4.51 करोड़ है। आइये जानते हैं कि एडीआर की रिपोर्ट में क्या-क्या है?

उम्मीदवारों के खिलाफ इस तरह के मामले

1618 में से 252 (16 प्रतिशत) उम्मीदवारों ने अपने ऊपर आपराधिक मामले घोषित किये हैं। 1618 में से 161 (10 प्रतिशत) उम्मीदवारों ने अपने ऊपर गंभीर आपराधिक मामले घोषित किये हैं। 15 उम्मीदवारों ने अपने ऊपर दोषसिद्ध मामले घोषित किये हैं। सात उम्मीदवारों ने अपने ऊपर हत्या (आईपीसी-302) से सम्बन्धित मामले घोषित किये हैं। महिलाओं के ऊपर अत्याचार से जुड़े मामले घोषित करने वाले उम्मीदवार 18 हैं। इन 18 में से एक उम्मीदवार के ऊपर दुष्कर्म (आईपीसी-376) से जुड़ा मामला दर्ज है। इसके अलावा, भड़काऊ भाषण से जुड़े मामले घोषित करने वाले कुल 35 उम्मीदवार हैं।

दलवार आंकड़े क्या हैं?

पहले चरण में बिहार की पार्टी राजद के सभी चार उम्मीदवारों के खिलाफ आपराधिक मामले हैं। वहीं, डीएमके के 22 में से 13, सपा के सात में से तीन, तृणमूल कांग्रेस के पांच में से दो, भाजपा के 77 में से 28, अन्नाद्रमुक के 36 में से 13, कांग्रेस के 56 में से 19 और बसपा के 86 में से 11 उम्मीदवारों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं।

राजद के चार में से दो, डीएमके के 22 में से छह, सपा के सात में से दो, तृणमूल कांग्रेस के पांच में से एक उम्मीदवार ने अपने ऊपर गंभीर आपराधिक मामले घोषित किये हैं। वहीं भाजपा के 14, अन्नाद्रमुक के छह, कांग्रेस के आठ और बसपा के आठ प्रत्याशियों के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले हैं।

उम्मीदवारों की संपत्ति का लेखा-जोखा

1618 में से 28 प्रतिशत यानी 450 उम्मीदवार करोड़पति हैं। भाजपा के 77 में से 69, कांग्रेस के 56 में से 49, राजद के चार में से चार, अन्नाद्रमुक के 36 में से 35, द्रमुक के 22 में से 21, तृणमूल कांग्रेस के पांच में से चार और बसपा के 86 में से 18 उम्मीदवार करोड़पति हैं। चुनावी हलफनामों में इन प्रत्याशियों ने एक करोड़ से ज्यादा की संपत्ति घोषित की है। इनमें 716 करोड़ के साथ नकुल नाथ सबसे अमीर उम्मीदवार हैं।

© Association for Democratic Reforms
Privacy And Terms Of Use
Donation Payment Method