Source: 
ABP
https://www.abplive.com/states/bihar/criminal-case-registered-against-cm-nitish-kumar-samrat-chaudhary-and-vijay-kumar-sinha-in-new-cabinet-of-bihar-ann-2598317
Author: 
परमानंद सिंह
Date: 
29.01.2024
City: 
Patna

Bihar Cabinet: बिहार के नए मंत्रिमंडल को लेकर एडीआर की रिपोर्ट में आपराधिक मामले सहित संपत्ति की जानकारी दी गई है. मंत्री विजय कुमार चौधरी पर कोई भी मामला दर्ज नहीं है.

बिहार में सोमवार को एनडीए (NDA) की सरकार बनी. इस सरकार में सीएम नीतीश (Nitish Kumar) सहित 8 मंत्रियों ने शपथ ली. वहीं, नए गठन हुए मंत्रिमंडल में एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (ADR) के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सहित 5 मंत्री पर अपराधिक मामले दर्ज हैं. मंत्रियों द्वारा घोषित किए गए रिपोर्ट के अनुसार गंभीर आपराधिक मामले में पांच मंत्री हैं. यानी कहा जाए तो 67% आपराधिक मामले वाले हैं तो 56% गंभीर आपराधिक मामले वाले मंत्री हैं. इनमें नीतीश कुमार को छोड़कर बाकी सभी तीन मंत्री बेदाग हैं और कोई भी आपराधिक मामले दर्ज नहीं है. जबकि बीजेपी के सभी तीन मंत्रियों पर आपराधिक मामले दर्ज है. 

विजय कुमार सिन्हा हैं सबसे अमीर

नए मंत्रिमंडल की संपत्ति की बात करें तो सभी मंत्री करोड़पति हैं. इन नौ मंत्रियों में औसतन संपत्ति 3.95 करोड़ रुपए आंकी गई हैं. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की बात करें तो उनके पास चल और अचल संपत्ति 3 करोड़ 9 लाख 83 हजार रुपये हैं और इन पर एक आपराधिक मामला दर्ज है और नीतीश कुमार ग्रेजुएट हैं. सबसे अधिक संपत्ति लखीसराय के विधायक और उपमुख्यमंत्री बने विजय कुमार सिन्हा के पास है, जिनकी चल-अचल संपत्ति 8 करोड़ 93 लख रुपये है. इन पर भी एक अपराधी मामला दर्ज है. इन्होंने डिप्लोमा किया हुआ है. 

सम्राट चौधरी के पास है डॉक्टरेट की डिग्री  

दूसरे नंबर पर उपमुख्यमंत्री बने सम्राट चौधरी के पास 8 करोड़ 85 लाख रुपये की चल-अचल संपत्ति है. उपमुख्यमंत्री बने सम्राट चौधरी ने डॉक्टरेट की डिग्री ली हुई हैं, लेकिन इन पर भी एक आपराधिक मामला दर्ज है. जमुई से निर्दलीय विधायक सुमित सिंह ने तीसरी बार मंत्री पद की शपथ ली है. इन पर पांच गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं. उनकी कुल संपत्ति तीन करोड़ 68 लाख घोषित की गई है. सुमित सिंह ग्रेजुएट हैं. जीतन राम मांझी के बेटे संतोष कुमार सुमन पर कुल दो आपराधिक मामले दर्ज हैं. इनमें एक गंभीर मामला है. संतोष कुमार सुमन डॉक्टरेट की डिग्री ली हुई है और उनकी कुल संपत्ति 2 करोड़ 57 लाख 46 हजार है.

श्रवण कुमार पर नहीं है आपराधिक मामले 

जेडीयू के वरिष्ठ नेता श्रवण कुमार ने मंत्री पद की शपथ ली है. इन पर एक भी आपराधिक मामले दर्ज नहीं है. हालांकि श्रवण कुमार मात्र 12वीं पास हैं और उनकी कुल संपत्ति दो करोड़ 39 लाख 43 घोषित की गई है. जेडीयू कोटे के मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव भी 12वीं पास हैं. इनकी उम्र 74 वर्ष हो चुकी है और आज तक इन पर एक भी आपराधिक मामले दर्ज नहीं है. इनकी कुल चल और अचल संपत्ति दो करोड़ 24 लख रुपये घोषित की गई है.

मंत्री प्रेम कुमार के पास सबसे कम संपत्ति 

जेडीयू कोटे के मंत्री विजय कुमार चौधरी पोस्ट ग्रेजुएट हैं यानी एमए की डिग्री ली हुई हैं. इनकी उम्र 63 वर्ष है. इन पर भी एक भी मामले दर्ज नहीं है. इनकी कुल चल और अचल संपत्ति दो करोड़ 11 लाख 80 हजार घोषित की गई है. वहीं, गया टाउन से लगातार आठ बार विधायक रहने वाले बीजेपी के वरिष्ठ नेता प्रेम कुमार ने मंत्री पद की शपथ ली है. इन पर कुल  छह आपराधिक मामले दर्ज है. इनमें चार गंभीर मामले हैं. इन्होंने डॉक्टरेट की डिग्री ली हुई है, लेकिन सबसे कम संपत्ति वाले मंत्री में प्रेम कुमार हैं. इनकी कुल चल और अचल संपत्ति एक करोड़ 70 लाख 54 हजार है.

© Association for Democratic Reforms
Privacy And Terms Of Use
Donation Payment Method